सरकारी कर्मचारी घूस मागै ? १०७ में फोन करू अख्तियार केलक फ़ोनसे उजुरी लकै ब्यवस्था



अपन मिथिला ,भदौ, १। सरकारी सेवा लकै क्रममें कोनो कर्मचारी अहाँसँग घूस मागै यदि कोनो सरकारी अड्डाके कर्मचारी सेवा प्रवाहमें अनेक बहाना बनाके घूस मागै आ बिनामतलबके दुःख दरहल अछि तब  अहाँ अब सीध अख्तियार दुरुपयोग अनुसन्धान आयोगमें फोन करै सकै छिय ।

अपन मोवाइल आ फोनसे १०७ नंबर डायल कके घूसखोरी करहल सरकारी कर्मचारीके उजुरी दैकेँ व्यवस्था अख्तियार सुरु केने अछि। ई नम्बरमें फोन करै से पैसा नै लागत अख्तियार  जानकारी देने अछि ।


सरकारी कार्यालयमें भ्रष्टाचार आ घुसखोरी बढल से शिकायत आबलागल तब सर्वसाधरणके सुविधाके लेल अख्तियार एहेन व्यवस्था केने अछि ।

सरकारी निकायके भ्रष्टाचार आ घूसखोरी के छानविन कके मुद्दा चलाब संवैधानिक निकाय अख्तियार सरकारी कर्मचारी जनताके प्रति उत्तरदायी बनाब एहेन सेवा सुरु केने बतौने अछि ।

‘सरकारी सेवामें हैरानी भेल सेवाग्राहीसभ कत – केने के उजुरी कब से जानकारी नै भेल देखल गेल अछि,’ आयोगक प्रवक्ता जीवराज कोइराला कहलक, ‘हटलाइन सेवासे भ्रष्टाचार नियन्त्रण करैके आ सेवा प्रवाहमें जनताके हैरानीके समस्या कम करै के से बिस्वास लेने छी।’

अब यातायात, श्रम आ मालपोतमा अख्तियारके अड्डा

 आब अख्तियार बेसी सेवाग्राहीके बेसी भीड़ भेल आ भ्रष्टाचार भरहल सरकारी कार्यालयसभमें सचेतनामूलक होडिङ बोर्ड राखै के सुरु केने अछि ।

आयोग शुक्रदिनसे   ‘राष्ट्रसेवक कर्मचारीसभ घूस/रिसवत मागै तब १०७ में फोन करू’ कहि के व्यहोराके होडिङ बोर्ड सरकारी कार्यालयमें राखैके तयारी केने जानकारी देने अछि ।

 पहिल बेरि बेसी भ्रष्टाचार देखल गेल ठाम में एहेन होडिङबोर्ड राखै के अख्तियार कहलक ।

‘अखुन यातायात कार्यालय, श्रम कार्यालय आ मालपोत , नापी कार्यालयमें ई  होडिङ बोर्ड राखै के तयारी भरहल,’ आयोगका प्रवक्ता कोइराला जानकारी देंने अछि ।

ई  बोर्ड सर्वसाधारणसभ देखैके ठाम कार्यालयके अगाडि राखब आयोग बतौने अछि ।पहिल बेरि के कार्यके प्रभावकारीता देख के यकरा विस्तार करैत लजेब आयोग कहलक ।

आयोगके अनुसार हटलाइनसे एल सूचनाके तत्काल सम्बोधन हेत । एक बेरि में सात टा फोनकल ‘रिसिभ’ करै के व्यवस्था केने अख्तियार जानकारी देने अछि ।


0 टिप्पणियाँ Blogger 0 Facebook

 
Apanmithilaa.com © 2016.All Rights Reserved.

Founder: Ashok Kumar Sahani

Top