#लप्रेक
                   #अपुर्ण_क्षति.....

✍👤रामअधिन सम्भव
कि बात छै विशाल काल्हुँसँ कनि बेसीए चिन्तित देखैत छी? 

नहि तेहन किछो नहि छै, देखियौन तीन दिनसँ मनीका  संगे बात नहि भ' सकल छै से ओकरे प' धियान रहै छै, बित्ला शनि दिन घर गेल रहे ताबेह  बाढि चैल एलेय    एहनेमे लाइन आ मोबाइलके सिंगनल सेहो कैट गेल छै।  उपरसँ जनकपुरके हालत सेहो ओहने छै। अहाँके मोबाइल चार्ज हवे त कनि लाबुने फेसबुक खोलै छी कोनो अपडेट छै कि , कोनो मेसेज हेतै छोडने।

हेतै लिय देखियौन, सप्तरीमे त कनि बेसिए समस्या छै बहुत आदमी सेहो दहा गेल छैक । अन्लाईन न्युज सभमे छै। 
इ बात सुनि विशालके मोन आउर बिचलित होव' लागल। एक हप्तामे चैल आएब कैहक' गेल प्रेमीका नहि आएल,  नहि बात भेल रहे ,जल्दी जल्दी फेसबुक लग'इन कैलक' मुदा नहि कोनो मेसेज रहे नहि कोनो अपडेट विशाल उदास होएत न्युजसभ देख लागल । अन्चोके ओकर नजरमे एगो हेडलाइन प' पर  " सप्तरीमे बाढिसँ अखनु धरी सात गोंटैनके मृत्यु दर्जनौ बेपता" । विशाल लिंक खोलल'क । मृतक सभके विवरण पढ्हैत गेल, पढैत  ओकरा मुहंसँ मनीका नाम उच्चारण भेल , ओकर कन्ठ बैँस गेल। निचा देखैय त ओकर प्राण पियारी मनिकाके शवके तस्बिर । ओकर सौसे देह सुन्न भगेल। हाथसँ मोबाइल गीर गेल, किछो नहि सुझह' लागल, चकराक' गिर परल।

आजु पूरा परिवार संग सरा सम्पति सुरक्षित छैक मुदा एहि बाढिमे विशालके  सारा संसार दहा गेल छैक ।आन-आन पिडित सभ राहतके पैरा तकैत छै मुदा ओकरा लेल त कोनो राहतोके आश नहि रहलै। 

#रामअधिन_सम्भव  
कल्याणपुर न.पा.,डडौल- ४
सिरहा, नेपाल 
हाल: दोहा, कतार

0 टिप्पणियाँ Blogger 0 Facebook

 
Apanmithilaa.com © 2016.All Rights Reserved.

Founder: Ashok Kumar Sahani

Top